Hanuman Ji Ki Photo: घर में हनुमान जी की फोटो कैसी होनी चाहिए?

Ghar me hanuman ji ki photo: हनुमान जी के कई रूप है. हनुमान जी को लोग सकटमोचन, बाला जी, दक्षिण मुखी कई नाम से जानते है. अपने जीवन में सभी बाधाऑ को दूर करने के लिए घर में हनुमान जी की फोटो लगानी चाहिये. पर वास्तु के अनुसार घर में हनुमान जी की फोटो किस दिशा में और किस तरह की लगानी चाहिए, घर में हनुमानजी की कौनसी फोटो रखने से क्या होता है. ये आपको जरुर जानना चाहिए. क्योंकि हर फोटो का अलग महत्व और फल है।

किस दिशा में लगाये हनुमानजी का फोटो- Hanuman Ji Ki Photo

घर में हनुमान जी का फोटो दक्षिण दिशा में लगाना अधिक शुभ माना जाता है. दक्षिण दिशा में हनुमानजी का चित्र लगाने पर आने वाली हर बुरी ताकत देखकर लौट जाती है। और घर परिबार में सुख और समृद्धि बढ़ती है। किसी भी प्रकार का कोई संकट नहीं आ सकता है. हिन्दू मान्यता के अनुसार हनुमानजी सभी संकटों को दूर करते है. हर मंगलबार को हनुमानजी का पाठ करके प्रासद का भोग लगाने से आपकी मनोकामना पूरी होती है.

हनुमान जी की किस तस्वीर को घर में लगाये

हिन्दू धर्म में हनुमान जी के कई रूप देखे होंगे पर इन सभी रूपों का अपना एक महत्व है. वास्तु के अनुसार हनुमान जी की कैसी तस्वीर घर में लगाने से धन संपदा, खुशहाली आती है. संकट मोचक हनुमान जी की जो श्रदा भाव से पूजा करता है. तो उसके जीवन से सभी प्रकार के दुःख दूर हो जाते है. हनुमान जी के कई रूप है हर रूप का एक बिशेष स्थान है. तो चलिए जानते है घर में हनुमान जी की फोटो कैसी होनी चाहिए

पंचमुखी हनुमान

पंचमुखी हनुमान जी के पांच मुख गरुड़ मुख, वराह मुख, नरसिंग मुख, हयग्रीव मुख और हनुमान मुख हैं. पंचमुखी हनुमान जी की तस्वीर को घर में लगाने से नकारात्मकता नष्ट हो जाती है. और जीवन में खुशहाली बनी रहती है. अगर आपका कोई उन्नति के मार्ग में बाधा आ रही है तो मान्यता है कि पंचमुखी हनुमान का घर में चित्र लगाने से मंगल, शनि, पितृ और भूतादि का दोष समाप्त हो जाता है. वास्तुविज्ञान के अनुसार पंचमुखी हनुमानजी की मूर्ति या चित्र तस्वीर दक्षिण दिशा में लगाना चाहिए.

श्रीराम भजन करते हुए हनुमान

श्रीराम भजन करते हुए हनुमान जी की तस्वीर घर में लगाने से जीवन की सफलता का आधार बनता है। इस तरह की फोटो या तस्वीर बच्चो के कमरों या फिर जहाँ पर आप कोई काम करते है वहाँ लगाना चाहिए इस तरह की तस्वीर एकाग्रता और शक्ति को बढाता है. इस तस्वीर का मतलब है हनुमान जी बंद आखो से एकाग्रता में लीन होकर अपने अराध्य श्रीराम भजन कर रहे है. अगर आपका किसी काम में मन नहीं लता है तो श्रीराम भजन करते हुए हनुमान को घर में लगाये.

दाएं घुटने के बल पर बैठे हनुमान

हनुमान जी को संकटमोचन भी कहा जाता है. घर में दाएं घुटने के बल पर बैठे हनुमान जी को फोटो लगाने से आपके जीवन की सभी समस्याओ को दूर करते है. और किसी भी प्रकार का कोई संकट आस पाश भी नहीं आता है. संकटमोचन हनुमान की तस्वीर को घर में दक्षिण दिशा में लगाना सही होता है.

सफेद बालों बाले हनुमान जी

नौकरी और प्रमोशन पाने के लिए हनुमानजी की ऐसी फोटो लगाएं, मान्यता है कि इस तरह की फोटो घर में लगाने से नौकरी में तरक्की मिलती है. इस तस्वीर को घर में लगाने से पहले ये देख ले कि इनका स्वरूप सफेद और शरीर पर सफेद बाल हो. सफेद बालों बाले हनुमान तरक्की के सभी रास्ते खोल देते है.

हनुमानजी प्रभु श्रीरामजी के चरणों में

कई बार देखा होगा की आप किसी के घर में जाते है वहाँ घर की बैठक रूम में श्रीराम दरबार का फोटो होती है. मान्यता है कि हनुमानजी प्रभु श्रीरामजी के चरणों में बैठे हुए की फोटो घर में लगाने से जीवन के सभी कष्ट दूर हो जाते हैं। और धन संपदा में बढोतरी होती है. साथ ही लोगो से आदर सम्मान मिलता है.

पर्वत उठाते हुए हनुमान का फोटो

यदि आपके जीवन में साहस, बल, विश्‍वास की कमी है तो हनुमान की पूजा मंगलवार वाले दिन करे और अपने घर में पर्वत उठाते हुए हनुमान का फोटो या चित्र लगाये. इस तरह की तस्वीर लगाने से घर में सुख शांति और आपमें साहस, बल, विश्‍वास और जिम्मेदारी का विकास होता है.

उड़ते हुए हनुमान

उड़ते हुए हनुमान जी फोटो घर में लगाने से आपकी उन्नती, तरक्की और सफलता को कोई भी बाधा नहीं आ सकती है. आपके तरक्की के रास्ते खुद खुल जाते है. और आप निरंतर सफलता के मार्ग पर बढ़ते जाएंगे। इस तरह की फोटो आपमें आगे बढ़ने के प्रति उत्साह और साहस का संचार करती है.

राम मिलन हनुमान

राम मिलन हनुमान वाली फोटो को अद्भत माना जाता है. इस तरह की तस्वीर घर में लगाने से पारिवार में एकता और समाज में मिलनसारीता बनी रहती है। और आपस में प्रेम के भाव का विकास होता है। इस तस्वीर को आप अपने किसी भी कमरे में लगा सकते है.

लोग नदी में सिक्के क्यों फेंकते हैं? इसके पीछे आस्था है या वैज्ञानिक कारण

भगवान शिव तक अपनी मनोकामना पहुचाने के लिए नंदी के कान में क्या बोलना चाहिए?