Tips For Healthy lungs: अपने फेफड़ों को रखना चाहते हैं हेल्दी, तो भूलकर भी न करे ये गलतियां

आज के समय में बढ़ते प्रदूषण, ख़राब लाइफस्टाइल, और धूम्रपान के कारण फेफड़ों की सेहत पर गंभीर प्रभाव दिखा रहा है. अस्थमा, ब्रोंकाइटिस, और फेफड़ों कैंसर जैसी बीमारियों के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. इस संदर्भ में, फेफड़ों की स्वस्थ बनाए रखना बहुत महत्वपूर्ण है.

चाहे सर्दी का मौसम हो या गर्मी का, फेफड़ों की बीमारियों के मरीजों के लिए जोखिम हमेशा बना रहता है. सर्दी के मौसम में कुछ क्षेत्रों में प्रदूषण का स्तर बढ़ा होता है. पिछले कुछ वर्षों से फेफड़ों की बीमारी से पीड़ित लोगों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है. डॉक्टर्स का कहना है कि धूम्रपान, बढ़ते प्रदूषण, और अश्वस्थ जीवनशैली फेफड़ों की बीमारियों के विकास का मुख्य कारण हैं. मेडिकल जर्नल की अनुसंधान ने बताया है कि प्रदूषण के कारण 30 से 40 वर्षीयों को भी फेफड़ों कैंसर हो रहा है. इस परिस्थिति में, लंग्स की बीमारियों से बचाव अत्यंत महत्वपूर्ण है

फेफड़ों की बीमारियों से बचाव कैसे किया जा सकता है, इस पर डॉक्टर का कहना हैं कि लंग्स की सेहत को बनाए रखने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है कि आप किसी भी प्रकार का धूम्रपान न करें। प्रदूषण से भी खतरा हो सकता है, लेकिन फिर भी, धूम्रपान करने वालों में लंग्स की बीमारियों का खतरा और भी बढ़ जाता है। धूम्रपान करने वालों में फेफड़ों के कैंसर के अधिकतर मामले पाए जाते हैं, और इससे लंग्स कैंसर के अलावा क्रोनिक अस्थमा जैसी समस्याएं भी उत्पन्न हो सकती हैं।

मास्क लगाएं

हालांकि अब कोविड का खतरा कम हो गया है, लेकिन धूल-मिट्टी वाले क्षेत्रों और अधिक प्रदूषण वाले स्थानों में लोगों को मास्क पहनना चाहिए। वे लोग जिन्हें धूल-मिट्टी से एलर्जी है, उन्हें इस बारे में विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। मास्क पहनने से यह लाभ होता है कि सांस के माध्यम से फेफड़ों में छोटे कण नहीं पहुंचते, जिससे कई विभिन्न स्वास्थ्य समस्याएं रोकी जा सकती हैं।

सही डाइट और एक्सरसाइज करे

अच्छी डाइट और नियमित व्यायाम करके आप अपने फेफड़ों को मजबूत रख सकते हैं. रोज सुबह ब्रीदिंग एक्सरसाइज से लंग्स की क्षमता में सुधार होती है और फेफड़ों से संबंधित बीमारियों का खतरा भी कम होता है. खानपान और हाइड्रेशन का भी ध्यान रखें, ताकि शरीर में पानी की कमी ना हो और रोजाना कम से कम सात से आठ गिलास पानी पीने पिए.

Kaju Khane Ke Fayde In Hindi: काजू खाने के फायदे, नुकसान और काजू के सेवन करने का तरीका

Gud khane Ke Fayde: खाना खाने के बाद महिलाओं को गुड़ खाने से क्या फायदे होता है?